Homeअंतरराष्ट्रीयरोज 30 हजार से ज्यादा लोग कर रहे वापसी, पढ़ें यूक्रेन जंग...

रोज 30 हजार से ज्यादा लोग कर रहे वापसी, पढ़ें यूक्रेन जंग के 10 अपडेट


Russia-Ukraine War News Update: रूस-यूक्रेन के बीच जंग का सोमवार को 54वां दिन है. रूस ने यूक्रेन के लगभग हर शहर पर हमला किया है. लाखों यूक्रेनी नागरिक देश छोड़कर जा चुके हैं. हालांकि अब हालात कुछ बदलते दिख रहे हैं. यूएन ऑफिस फॉर द कॉर्डिनेशन ऑफ ह्यूमैनिटेरियन अफेयर्स के मुताबिक, रोज 30 हजार से ज्यादा लोग यूक्रेन लौट रहे हैं. ये शरणार्थी अब तक पश्चिम यूक्रेन और पड़ोसी देशों में रह रहे थे. रूसी सेना अभी मुख्य रूप से राजधानी कीव और आसपास के कस्बों से वापस जा रही है. इसलिए सबसे ज्यादा यूक्रेनी अभी कीव ही लौट रहे हैं.

दूसरी ओर यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने दुनिया को रूस के परमाणु हमले को लेकर आगाह किया है. उन्होंने कहा कि दुनिया को रूसी परमाणु हथियारों के संभावित इस्तेमाल के लिए तैयार करने की जरूरत है.

इसके साथ ही आइए जानते हैं रूस और यूक्रेन जंग के अब तक के 10 बड़े अपडेट…

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी ने कहा कि फरवरी में रूस के आक्रमण के बाद से 4,869,019 लोग यूक्रेन निवासी देश छोड़ चुके हैं. 2.76 करोड़ यूक्रेन के नागरिक पोलैंड में प्रवेश कर चुके हैं. वहीं, 458,654 लोग हंगरी में प्रवेश कर चुके हैं. 738,862 यूक्रेनियन ने रोमानिया में प्रवेश किया है.

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की का कहना है कि रूस डोनबास रीजन का खत्म करना चाहता है. इसके साथ ही रूसी सेना जिस तरह से मारियुपोल को तबाह कर रही है, वो डोनेट्स्क और लुहान्स्क से भी दूसरे समुदायों का सफाया करना चाहते हैं.

रूस ने रविवार को यूक्रेनी सैनिकों को मारियुपोल में हथियार डालने का अल्टीमेटम दिया. यूक्रेनी सेना ने सरेंडर करने से इनकार किया है. यूक्रेन के सैनिक आजोव सागर के किनारे पर एक बड़े स्टील प्लांट में छिपे हैं.

यूक्रेन की एयरफोर्स का दावा है उसने बीते रोज रूस के 3 हेलिकॉप्टर, एक हवाई जहाज मार गिराया. यूक्रेन की सेना का कहना है कि उसने पिछले 24 घंटों में डोनबास में 10 रूसी टैंकों को नष्ट कर दिया.

यूक्रेनी आर्मी के इंटेलिजेंस चीफ कहना है कि पुतिन की तरफ से परमाणु हथियार के इस्तेमाल की संभावना नहीं है.

यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने CNN को दिए इंटरव्यू में कहा- फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को यूक्रेन का दौरा करना चाहिए, ताकि वो यह महसूस कर सकें रूसी सेना किस तरह उनके लोगों का नरसंहार किया था.

यूक्रेनी सेना की ने दावा किया है कि जंग में रूस ने अपने 20,300 सैनिकों को खोया है. इसके अलावा अब तक रूसी सेना को बहुत नुकसान हुआ है. वहीं, रूस ने कीव के पास एक यूक्रेनी मिलिट्री फैक्टरी को तबाह कर दिया है.

बेल्जियम, एस्टोनिया, बुल्गारिया ने भी अब अपने बंदरगाहों पर रूसी जहाजों को प्रतिबंधित कर दिया है. इससे पहले कई यूरोपीय देश ऐसा कर भी चुके हैं.

क्रीमियन ह्यूमन राइट्स ग्रुप की ओर से दावा किया गया है कि रूसी सैनिकों ने मारियुपोल से लगभग 150 बच्चों को जबरन उठाया है. उन्होंने कहा कि बच्चों को अस्पतालों से ले जाया गया है, जबकि वे अनाथ नहीं थे. रूसी सैनिक बच्चों को किसी अज्ञात जगह पर ले गए हैं.

यूक्रेन को हथियार भेजने में देरी कर रहे पश्चिम देशों पर राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की फिर भड़के हैं. उन्होंने कहा है कि, हथियार भेजने में जितनी देरी होगी, उतनी ज्यादा यूक्रेनियों की मौत होगी.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!