Homeछत्तीसगढगलतफहमीः महुए की बोरी को घूर रहा था मजदूर, घरवालों ने चोर समझ...

गलतफहमीः महुए की बोरी को घूर रहा था मजदूर, घरवालों ने चोर समझ पीट-पीटकर मार डाला


कोरबा. पसान थाना क्षेत्र के गोलाबहरा गांव में महुआ चोरी के संदेह में एक ग्रामीण की हत्‍या का मामला सामने आया है. ग्रामीण को पीटने की वजह सिर्फ यह था कि काम के लिए घर आया इतवार सिंह आंगन में रखी महुए की बोरी को देख रहा था. इसी बात पर उसे इतना पीटा गया कि उसका दम निकल गया.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक दर्रीपारा में रहने वाले निवासी इतवार सिंह 19  मई को घर में ही था. इसी दौरान पसान गोलाबहरा का रहने वाला प्रकाश मेश्राम घर मे काम करने के लिए उसे बुलाने आया. इस पर इतवार सिंह उसके साथ चला गया, लेकिन रात को वापस घर नहीं लौटा. दूसरे दिन इतवार सिंह का पिता ललुआ सिंह अपने बेटे को ढूंढता हुआ प्रकाश के घर पहुंचा. वहां देखा कि इतवार घर के आंगन में खून से लथपथ बेहोश पड़ा हुआ है. तब उसने 108 एबुंलेंस को बुलाया. इतवार को उपचार के लिए गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के जिला अस्पताल में लाकर भर्ती कराया गया. यहां उपचार के दौरान 22  मई की शाम इतवार सिंह की मौत हो गई. अस्पताल से मामले की सूचना पुलिस को दी गई.

आरोपी गिरफ्तार, जुर्म कुबूला

इतवार सिंह की मां प्रेमवती मरकाम ने पुलिस को बताया कि आस-पड़ोस के लोगों से उन्हें सूचना मिली कि एक बोरी महुआ चोरी का आरोप लगाते हुए प्रकाश ने इतवार के साथ मारपीट की थी. इतवार को डंडे से कान, सिर और पीठ पर वार किया. इससे उसे गंभीर चोट लगी थी. शिकायत पर पुलिस ने आरोपी  प्रकाश मेश्राम को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में उसने वारदात की बात स्वीकार ली है. पुलिस ने उसकी निशानदेही पर खून से सना कपड़ा और वारदात में प्रयुक्त डंडा बरामद कर लिया है. आरोपी  प्रकाश को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया है. उधर, घटना  के बाद से इतवार सिंह के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है.

Tags: Chhattisgarh news, Murder

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments