Homeछत्तीसगढसौतेले पिता की 8 साल के बेटे के साथ क्रूर हरकत, पिटाई...

सौतेले पिता की 8 साल के बेटे के साथ क्रूर हरकत, पिटाई के बाद दीवार से बांधे हाथ-पांव, चाइल्ड लाइन ने किया रेस्क्यू


कोरबा. छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में एक सौतेले की पिता की क्रूर हरकत सामने आई है. यहां सौतेले पिता ने 8 साल के मासूम को पहले जमकर पीटा. इसके बाद उसके हाथ-पैर दीवार से बांधकर काम पर निकल गया. बच्चा घंटों तक भूख-प्यास से तड़पता रहा. बच्चे की चीखें सुनकर जब पड़ोसी घर के अंदर पहुंचे तो बच्चे को खोला गया. इसके बाद चाइल्ड लाइन को मामले की जानकारी दी गई. चाइल्ड लाइन की टीम ने मौके पर पहुंचकर बच्चे को रेस्क्यू किया. मामला कोरबा जिले के बाल्कोनगर थाना क्षेत्र में पड़ने वाली श्रमिक बस्ती का बताया जा रहा है. यहां रहने वाले एक दंपत्ति की एक 4 साल की बेटी है. साथ ही एक 8 साल का सौतेला बेटा भी उनके साथ रहता है. बच्चे का सौतेला पिता राजमिस्त्री का काम करता है.

अक्सर करता था पिटाई

पड़ोसियों ने भी बताया कि बच्चे का पिता अक्सर उसे पीटता रहता है. पिता बच्चे पर बदमाशी करने का आरोपी लगातार प्रताड़ित करता रहता है. बच्चे ने चाइल्ड लाइन को बताया कि वह किसी तरह की शरारत नहीं करता है. लेकिन उसके पिता रोजाना उसे दीवार पर लगे कुंदे से बांधकर काम पर चले जाते हैं. भीषण गर्मी में भी बच्चा बंद कमरे में उबलता रहता है. रविवार को भी रोज की तरह बच्चे का पिता अपनी बेटी को तो अपने साथ काम पर ले गया. वहीं बेटे के हाथ-पांव बांधकर कमरे में ही बंद कर चला गया. कमरे में बिना पंखे के भीषण गर्मी में बच्चे का बुरा हाल हो गया. जब बच्चा अंदर घुटन बर्दाश्त नहीं कर पाया तो वह चीखने लगा. चीख सुनने के बाद आस-पड़ोस के लोग जमा हो गए.

जिसने भी देखा हैरान रह गया

पड़ोसी जब बच्चे के पास कमरे में पहुंचे तो हैरान रह गए. कमरे के अंदर दीवार में दो लोहे के कुंदे में गमछे से बच्चे के दोनों हाथ बंधे हुए थे. यह देखकर पड़ोसी भावुक हो गए. इसके बाद पड़ोसियों ने बालको थाने में इसकी सूचना दी. पुलिस ने इसे चाइल्ड लाइन का मामला बताते हुए मोबाइल नंबर उपलब्ध करा दिया. इसके बाद चाइल्ड लाइन को मामले की सूचना दी गई. चाइल्ड लाइन की टीम ने मौके पर पहुंचकर बच्चे का रेस्क्यू किया है. चाइल्ड लाइन की टीम ने पिता को भी जमकर खरी खोटी सुनाईं. बच्चे को दादरखुर्द स्थित बालक आश्रय गृह में रखा गया है. बाल कल्याण समिति के समक्ष काउंसलिंग के लिए बच्चे को उपस्थित किया जाएगा. जिस मकान में यह घटना हुई, वह किराए की है. सौतेले पिता की इस करतूत से व्यथित होकर नाराज मकान मालिक ने घर खाली करने को कह दिया है. बाल कल्याण समिति बच्चे के बयान के आधार पर अब आगे यह तय करेगी कि इस मामले में सौतेले पिता के खिलाफ क्या कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Chhattisgarh news, Korba news

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments