HomeBREAKING NEWSनही थम रहा तस्करी का कारोबार...मवेशियों से भरी कंटेनर छोड़कर भागे तस्कर...किसके...

नही थम रहा तस्करी का कारोबार…मवेशियों से भरी कंटेनर छोड़कर भागे तस्कर…किसके संरक्षण में चल रहा यह काम, क्यो नही होती कार्रवाई

नही थम रहा तस्करी का कारोबार…मवेशियों से भरी कंटेनर छोड़कर भागे तस्कर…किसके संरक्षण में चल रहा यह काम, क्यो नही होती कार्रवाई :

जांजगीर चाम्पा – बीती रात कुछ लोगो ने देखा कि मवेशियों के एक कंटेनर में क्रूरता पूर्वक भरकर ले जाया जा रहा है, उनके द्वारा ट्रक का पीछा किया गया और ट्रक रोकने की कोशिश की गई, इसी बीच ट्रक चालक तस्करों द्वारा मवेशियों से कंटेनर को पाराघाट टोल प्लाजा के पास सड़क पर छोड़कर फरार हो गए।

जिस पर घटना की सूचना संबंधित थाने मूलमुला में दी गई एवं रात्रि गस्त की टीम को भी दी गई जहां घटनास्थल पर पुलिस की टीम पहुंची और जांच पड़ताल शुरू की इधर मुलमुला थाना प्रभारी एस .के मोहले ने अपने टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर गाड़ी को कब्जे में लिया और थाना लेकर आई और आगे की कार्रवाई में पुलिस जुटी हुई है। बताया जा रहा है कंटेनर में 40 से से 45 मवेशी ठूंस ठूंस कर भरकर ले जा रहे थे।

राज्य सरकार द्वारा गोवंश की सुरक्षा के लिए गोठान निर्माण और गोबर खरीदी, गोधन न्याय योजना जैसी महत्वकांक्षी योजना शुरू की गई है मगर गोवंशीय पशुओं को बचाने प्रशासन और पुलिस द्वारा कोई पहल नहीं की जा रही है।

मिली जानकारी के अनुसार शिवरीनारायण थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत धरदेई में गुरूवार-शुक्रवार को ज्ञाना ताला के पास बड़ी संख्या में बिचौलिए बाहर से मवेशी हकाल कर लाते हैं

और शाम को इसकी खरीदी बिक्री होती है फिर तस्कर इसे कंटेनर में भरकर बाहर ले जाते हैं। रास्ते में कई थाने पड़ते हैं मगर कहीं इसकी चेकिंग नहीं होती। धरदेई में कई घरों में बिचौलिए मवेशियों को बांधकर रखते हैं

और तस्कर जब आते हैं तो इसकी बिक्री की जाती है।

ऐसा नहीं हैं कि संबंधित पंचायत के पदाधिकारियों को इसकी जानकारी नहीं होगी मगर वे इस संबंध में न पुलिस को सूचना दी जाती न ग्रामीण खुद संज्ञान लेते ऐसे में यह तय है कि गांव के कुछ प्रभाव शाली लोग भी गौ तस्करी में जुड़े हैं। प्रभावशाली लोगों के खिलाफ ग्रामीण कुछ बोलने से भी कतरा रहे हैं

और बेजुबान मवेशी तस्करों के हवाले हो रहे हैं।अब तक बड़ी कार्रवाई नहीं होने से गौतस्करों के हौसले बुलंद हैं और मवेशियों की अवैध खरीद फरोख्त बेखौफ जारी है। इसे रोकने किसी को परवाह नहीं है।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments