Homeछत्तीसगढटोनही प्रताड़ना मामले में नोटिस देने गई पुलिस टीम पर हमला, आरक्षक...

टोनही प्रताड़ना मामले में नोटिस देने गई पुलिस टीम पर हमला, आरक्षक का सिर फोड़ा


सरगुजा. छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया गया है. टोनही प्रताड़ना के मामले में एक आरोपी के घर नोटिस देने गई पुलिस टीम पर हमला हो गया है. हमला करने वाले आरोपी पक्ष के लोग ही बताए जा रहे हैं. हमले में एक आरक्षक का सिर फोड़ दिया गया है. आरोपी के बेटों पर पुलिस टीम पर हमले का आरोप लगा है. मामला बीते बुधवार का है. घटना के बाद पुलिस की अतिरिक्त टीम गांव पहुंची और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. घटना के बाद से गांव में तनाव का माहौल है.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक घायल अवस्था में आरक्षक को अस्पताल पहुंचाया गया, जिसका इलाज जारी है. सरगुजा के कमलेश्वरपुर थाना अंतर्गत लैरूना गांव में वारदात को अंजाम दिया गया. लैरूना निवासी ज्ञानी यादव पर टोनही प्रताड़ना का केस पहले से दर्ज है. इसी मामले में पुलिस को कोर्ट में चालान पेश करना है. बताया जा रहा है कि चालान से पहले आरोपी को नोटिस देने खुद थाना प्रभारी शिशिर सिंह, आरक्षक विजय प्रताप व एक अन्य आरोपी के घर पहुंचे. बातचीत के बीच में ही आरोपी ज्ञानी का बेटा नारायण यादव वहां पहुंचा.

पत्थर से किया हमला
पुलिस की टीम कुछ समझ पाती इससे पहले ही नारायण यादव ने एक आरक्षक पर पत्थर से हमला कर दिया. बीच बचाव के दौरान ज्ञानी यादव व उसके दूसरे बेटे नारद यादव ने पुलिस वालों से भी झूमाझटकी की. घटना में  आरक्षक विजय प्रताप का सिर फूट गया. खून से लथपथ आरक्षक जमीन पर गिर गया. इसके बाद अतिरिक्त पुलिस बल मौके पर बुलाया गया. पुलिस ने आरोपी बाप-बेटों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल दाखिर करा दिया है. सरगुजा के एसडीओपी चंद्रकांत गवर्ना ने बताया कि तीनों आरोपियों के खिलाफ धारा 294, 353, 307, 506, 333, 186, 34 के तहत अपराध दर्ज किया गया है. घायल आरक्षक की हालत में सुधार है.

Tags: Chhattisgarh news, Crime News

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments