Homeबस्तर संभागदंतेवाड़ाबघेल ने सिकोला में हाईटेक नर्सरी का किया लोकार्पण, कहा – बड़े...

बघेल ने सिकोला में हाईटेक नर्सरी का किया लोकार्पण, कहा – बड़े पैमाने पर उगाए जाएंगे पौधे

OFFICE DESK RAIPUR : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज पाटन के सिकोला में हाईटेक नर्सरी का लोकार्पण किया. 3 करोड़ 8 लाख रुपए की लागत से बनी इस नर्सरी में नेचुरल वेंटिलेटेड शेड नेट के चलते पौधे 5 गुना से 50 गुना तक वृद्धि दर्ज कर सकेंगे. इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कदंब का पौधा भी लगाया.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हाईटेक नर्सरी के माध्यम से बड़े पैमाने पर पौधे उगाए जा सकेंगे. इससे पौधरोपण के कार्य को बढ़ावा मिलेगा और तेजी से हरियाली प्रसार की दिशा में काम किया जा सकेगा. उल्लेखनीय है कि परिसर में बाउंड्रीवॉल, फॉरेस्ट गार्ड क्वार्टर, एडमिन ब्लॉक, सपोर्ट बिल्डिंग सिंचाई व्यवस्था का निर्माण भी किया गया है. यहां 50 हजार पौधों की तैयारी शुरु कर दी गई है.

पौधों की रोपणी में मिलेगी मदद

इस मौके पर मुख्यमंत्री बघेल ने नर्सरी का अवलोकन भी किया. हाईटेक नर्सरी की विशेषता है कि यहां पर एग्जॉटिक पौधों का रोपण भी हो सकेगा. वन विभाग के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि यहां ग्रीन हाउस फैन कूलिंग की सुविधा भी है. इससे एग्जॉटिक पौधों की रोपणी में भी मदद मिलेगी. एग्जॉटिक पौधों के आरंभिक रिवाइवल में काफी कठिनाई होती है. नर्सरी के वेंटिलेटेड नेट के चलते यहां के सुरक्षित वातावरण में एग्जॉटिक पौधों को प्रतिरोधक क्षमता मिल पाएगी.

बीजों का अंकुरण कम समय पर होगा

अफसरों ने बताया कि पाली हाउस में बीजों का अंकुरण भी कम समय पर होगा. तापमान और आर्द्रता के नियंत्रण के माध्यम से यह संभव हो पाएगा. इन पौधों पर कीट पतंगों का प्रकोप भी नहीं होगा. अक्सर कीट पतंगों के चलते पौधों की वृद्धि प्रभावित होती है और आरंभिक स्तर पर कीट पतंगों के नुकसान से पौधों को बचाना कठिन हो जाता है. ड्रिप के माध्यम से उर्वरकों का प्रयोग भी आसानी से हो पाएगा.

 

उद्यानिकी फसलों का बढ़ेगा उत्पादन

मुख्यमंत्री ने यहां काम कर रही स्वसहायता समूह की महिलाओं के साथ फोटो भी खिंचाई और उनसे कहा कि पौधरोपण के कार्य को तेजी से बढ़ावा देना है. इस नर्सरी के माध्यम से क्षेत्र के किसानों को आसानी से पौधे प्राप्त हो पाएंगे और पाटन क्षेत्र में उद्यानिकी फसलों का उत्पादन तेजी से बढ़ेगा.

लोद्यानों के विकास में मिलेगी मदद

इस दौरान पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर भी मौजूद थे. उन्होंने कहा कि पाटन क्षेत्र के निवासियों के लिए हाईटेक नर्सरी बेहतरीन सुविधा होगी. इसके चलते यहां फलोद्यानों के विकास में भी मदद मिलेगी. हाईटेक नर्सरी होने से एग्जॉटिक पौधों के बड़े मार्केट की संभावना भी पाटन क्षेत्र में तैयार होगी. इस दौरान पीसीसीएफ राकेश चतुर्वेदी, सीसीएफ बीपी सिंह, कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे, एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव, वन मंडल अधिकारी शशि कुमार एवं अन्य अधिकारी मौजूद थे.

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments