Homeअंतरराष्ट्रीययूक्रेन का साथ देने वाले देशों की हैकिंग कर रहा रूस, पढ़ें...

यूक्रेन का साथ देने वाले देशों की हैकिंग कर रहा रूस, पढ़ें जंग के 10 अपडेट


Russia-Ukraine War News Update: रूस और यूक्रेन के बीच जंग को आज 119वां दिन है. रूस की सेनाओं ने यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर खार्किव और आसपास के इलाकों पर मंगलवार रात और बुधवार सुबह रॉकेटों की बारिश कर दी. इससे कम से कम 15 लोग मारे गए और 16 घायल हो गए. बताया जा रहा है, इस हमले के पीछे रूस का इरादा यूक्रेन की सेना को मुख्य युद्धस्थल से हटाकर शहरवासियों की रक्षा पर मजबूर करने का है.

वहीं, माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) ने बुधवार को एक रिपोर्ट में दावा किया है कि यूक्रेन के साथ जंग शुरू होने के बाद से रूस ने यूक्रेन और उसका साथ देने वाले देशों के खिलाफ हैकिंग की कोशिश तेज कर दी है. रूस, अमेरिकी और उसके सरकारी कंप्यूटर नेटवर्क को भी निशाना बना रहा है.

इसके साथ ही आइए जानते हैं रूस और यूक्रेन जंग के बड़े अपडेट्स…

माइक्रोसॉफ्ट के अनुसार, रूस ने कथित हैकिंग से 42 देशों की खूफिया जानकारी जुटाई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि रूस हैकिंग के प्रयासों में 29% बार सफल रहा. इन प्रयासों में उसे 7.25% बार डाटा चोरी करने में सफलता मिली है.

रूसी सेना ने लुहान्स्क और डोनेट्स्क इलाकों में लगातार बमबारी कर रही है. रूस ने ड्रुज़्किवका शहर में भी एक मिसाइल हमला किया. इसमें 2 यूक्रेनी सैनिक घायल हो गए. यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि दुश्मन कई दिशाओं से आगे बढ़ रहे हैं.

इसी बीच रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (Reporters Without Borders) की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि रूसी सैनिकों ने साजिश के तहत यूक्रेनी फोटो जर्नलिस्ट माक्स लेविन और उसके दोस्त ओलेक्सी चेर्निशोव की हत्या की थी. रिपोर्ट में दावा किया गया कि 13 मार्च को यूक्रेन की राजधानी कीव के पास एक जंगल में जर्नलिस्ट की हत्या की गई थी.

फोटो जर्नलिस्ट की मौत के मामले की जांच करने के लिए 24 मई और 3 जून के बीच दो इनवेस्टिगेटर यूक्रेन गए थे। उन्होंने मौके पर सबूत जुटाए। मौके पर माक्स, उसके दोस्त के आई कार्ड और कई गोलियां पड़ी मिलीं. आरएसएफ ने कुछ रूसी सैनिकों को पहचान भी की है, उन्होंने बताया कि ये माक्स और ओलेक्सी को अपने साथ ले गए थे.

मंगलवार को यूक्रेन की वायु सेना ने दावा किया कि उसने रूस की एक मिसाइल, दो ड्रोन और दो गोला बारूद डिपो नष्ट कर दिए हैं. यूक्रेन एयरफोर्स ने फेसबुक पर इसकी जानकारी शेयर की. बयान में कहा गया कि एयरफोर्स ने कीव और डोनेट्स्क क्षेत्रों में दो ड्रोन को मार गिराया.

यूक्रेन का दावा है कि 24 फरवरी और 21 जून के बीच यूक्रेनी सेना ने रूस के करीब 34,100 सैनिकों को मारा है. मंगलवार को ही यूक्रेनी सेना ने 26 रूसी सैनिकों को मार गिराया. रूसी सैनिकों ने खार्किव के इंडस्ट्रियल्नी जिले में गोलाबारी की, जिसमें करीब 7 नागरिक घायल हो गए.

जंग के बीच रूस ने यूक्रेन से दो पूर्व अमेरिकी सैनिकों को पकड़ा है, इनके नाम अलेक्जेंडर ड्रूके और एंडी हुइन्ह हैं. रूस का दावा है कि ये दोनों यूक्रेन की ओर से जंग में शामिल थे. यूक्रेन के अधिकारियों का कहना है कि दोनों अपनी इच्छा से यूक्रेनी सेना में रूस से लड़ाई करने के लिए शामिल हुए थे.

यूक्रेन में डोनबास सीमा से महज आठ किलोमीटर दूर स्थित रूस की नोवोशखतिंस्क तेल रिफाइनरी पर हमले के संबंध में समाचार एजेंसी तास ने बताया, यह हमला ड्रोन से किया गया था. इस इलाके पर रूस समर्थक अलवाववादियों का कब्जा है.

यूक्रेन के नेशनल बैंक की रिपोर्ट के मुताबिक, रूसी हमले के बाद उसके वैश्विक भागीदारों ने 30 अरब डॉलर की सहायता राशि उसे प्रदान की है. यूक्रेन के साझेदार भी बजट व्यय को वित्तपोषित करने के लिए सीधे वित्तीय मदद देते हैं. जून मध्य तक आईएमएफ, ईयू, ईआईबी, विश्व बैंक और विदेशी सरकारों सेऋण यूक्रेन को वित्तीय मदद मिली है.

यूक्रेन ने रूस के कब्जे क्रीमिया के ऑयल ड्रिलिंग प्लेटफॉर्म पर हमला किया है. क्रीमिया के स्टेट हेड के मुताबिक, इस हमले में तीन घायल हुए हैं.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

FIRST PUBLISHED : June 23, 2022, 07:08 IST

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments