Homeअंतरराष्ट्रीयरूसी अरबपति मेल्निचेंको की पत्नी पर EU का बैन, कोर्ट में देंगी...

रूसी अरबपति मेल्निचेंको की पत्नी पर EU का बैन, कोर्ट में देंगी चुनौती, कोयला-खाद का संकट गहराने के आसार


कीव. रूस-यूक्रेन युद्ध को तीन महीने से ज्यादा हो चुके हैं, लेकिन जंग थमने के कोई आसार अभी नहीं दिख रहे हैं. रूस को रोकने और अलग-थलग करने की कोशिशों के तहत यूरोपीय यूनियन (ईयू) रूस की कंपनियों और बड़े रूसी कारोबारियों पर ताबड़तोड़ पाबंदियां लगा रहा है. इसी क्रम में अब राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के करीबी रूसी अरबपति आंद्रे मेल्निचेंको की पत्नी अलेक्सेंद्रा पर बंदिशें लगाई गई हैं. कोयला और खाद के मामले में दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी मानी जाने वाली सूएक (SUEK AO) और यूरोकेम (EuroChem) को अलेक्सेंद्रा ही देख रही थीं. अब अलेक्सेंद्रा ने ईयू की पाबंदियों को कोर्ट में चुनौती देने का ऐलान किया है.

यूरोपीय यूनियन ने अपने छठवें प्रतिबंधों के तहत शुक्रवार को अलेक्सेंद्रा पर पाबंदियों का ऐलान किया. ये पाबंदियां रूस की तरफ से यूक्रेन पर किए गए हमले के कारण लगाई गई हैं. कहा जा रहा है कि इन पाबंदियों की वजह से सूएक और यूरोकेम की कमर टूट सकती है क्योंकि इनकी संपत्ति को भी फ्रीज करने का फैसला किया गया है. सीएनबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया भर में खाद उत्पादन का करीब 5 फीसदी अकेले यूरोकेम कंपनी ही करती है. पिछले साल इसका रेवेन्यू 10.2 अरब डॉलर रहा था. मेल्निचेंको की दूसरी सबसे बड़ी कोयला कंपनी सूएक की पिछले साल आमदनी 9.7 अरब डॉलर थी. आंद्रे मेल्निचेंको को फोर्ब्स मैगजीन ने पिछले साल रूस का 8वां सबसे अमीर शख्स करार दिया था. उनकी संपत्ति 18 अरब डॉलर से अधिक आंकी गई थी.

आंद्रे मेल्निचेंको पिछले 20 साल से सूएक और यूरोकेन को संभाल रहे थे. लेकिन पिछले हफ्ते मीडिया में रिपोर्ट्स आई थीं कि उन्होंने अपने 50वें जन्मदिन पर चुपके से अपनी कारोबारी जिम्मेदारियां पत्नी अलेक्सेंद्रा के नाम कर दी थीं. अलेक्सेंद्रा इन कंपनियों में नंबर 2 की पोजिशन पर थीं. यूक्रेन पर रूसी हमले के बाद यूरोपीय यूनियन पहले ही आंद्रे पर पाबंदी लगा चुका है. अब उसके बाद उनकी पत्नी को भी पाबंदियों की लिस्ट में शामिल किया गया है, जिसे उन्होंने चुनौती देने की घोषणा की है.

अलेक्सेंद्रा की तरफ से ईयू के इस फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण और तर्कहीन करार दिया गया है. उनके प्रतिनिधि ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स से कहा कि अलेक्सेंद्रा कभी रूसी नागरिक नहीं रहीं, न ही वो रूस में रहती हैं. वह बेलग्रेड में पैदा हुई थीं. उनके पास सर्बिया और क्रोएशिया की नागरिकता है. उनके खिलाफ दुर्भाग्यपूर्ण कदम उठाया गया है, जिसका सख्ती से मुकाबला किया जाएगा.

यूरोकेम के प्रवक्ता ने कहा कि हम यूरोपीय संघ के प्रतिबंध कानून का पालन करेंगे. साथ ही ईयू के अधिकारियों से ये भी चर्चा करना चाहेंगे कि कंपनी दुनिया भर में किसानों और कंपनियों को खाद की सप्लाई कैसे जारी रख सकती है. इस बारे में यूरोकेम यूरोपीय यूनियन के सामने कुछ प्रस्ताव भी पेश करेगी. उन्होंने कहा कि दुनिया में खाद्यान्न संकट के मद्दनेजर खाद की सप्लाई महत्वपूर्ण है.

Tags: European union, Russia ukraine war

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments