Homeअंतरराष्ट्रीयRussia Ukraine War: नागरिक ठिकानों को निशाना बनाए जाने पर भारत ने...

Russia Ukraine War: नागरिक ठिकानों को निशाना बनाए जाने पर भारत ने जताई चिंता


संयुक्त राष्ट्र. रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध में होने वाली मौतों पर चिंता व्यक्त करते हुए भारत ने कहा है कि लड़ाई में शहरी इलाकों में महत्वपूर्ण नागरिक ठिकाने आसान निशाना बनते जा रहे हैं. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में यूक्रेन के मसले पर मंगलवार को भारत के स्थायी उप प्रतिनिधि आर. रविंद्र ने कहा कि इस युद्ध के कारण बहुत से लोगों की जान गई है और महिलाओं, बच्चों तथा बुजुर्गों के लिए विशेष रूप से परेशानियां खड़ी हुई हैं.

न्यूज एजेंसी भाषा की एक खबर के मुताबिक भारत के स्थायी उप प्रतिनिधि आर. रविंद्र ने कहा कि लाखों लोग बेघर हो गए हैं और उन्हें पड़ोसी देशों में शरण लेनी पड़ी है. रविंद्र ने कहा कि यूक्रेन की स्थिति पर भारत बेहद चिंतित है. रविंद्र ने कहा कि ‘रूस-यूक्रेन युद्ध में नागरिकों की मौत की खबरें बेहद परेशान करने वाली हैं और इस संबंध में हम अपनी चिंता व्यक्त करते हैं. हाल के वर्षों में लड़ाई के दौरान शहरी इलाकों की महत्वपूर्ण संरचनाओं को आसानी से निशाना बनाया जा रहा है.’

इससे पहले राजनीतिक और शांति प्रयास मामलों की उप सचिव रोजमेरी डि कार्लो ने परिषद को बताया कि यूक्रेन के क्रेमेनचुक शहर में रूस द्वारा मॉल पर किए गए मिसाइल हमले में 18 नागरिकों की जान चली गई और 59 घायल हो गए. उन्होंने कहा कि यह संख्या बढ़ सकती है. परिषद की इस बैठक को यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने भी डिजिटल माध्यम से संबोधित किया. फरवरी में युद्ध शुरू होने के बाद यह दूसरा मौका था, जब जेलेंस्की ने 15 सदस्यीय सुरक्षा परिषद के सामने सीधे तौर पर अपनी बात रखी.

रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से हीरा उद्योग भी प्रभावित, लाखों हीरा श्रमिकों पर संकट, पढ़िए कैसे?

रूस के यूक्रेन पर हुए हमले के बाद से उसके लाखों नागरिकों ने पड़ोसी देशों में शरणार्थी के रूप में शरण ली है. संयुक्त राष्ट्र ने इसे द्वितीय विश्व युद्ध के बाद का यूरोप का सबसे बड़ा शरणार्थी संकट बताया है.

Tags: India, Russia ukraine war, United nations

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments