HomeBREAKING NEWSछिंदगढ़ में 12 साल में एक बार लगता है मेला, विदेशी सैलानी...

छिंदगढ़ में 12 साल में एक बार लगता है मेला, विदेशी सैलानी भी पहुंचे मेले का आनंद लेने

छिंदगढ़ में 12 साल में एक बार लगता है मेला, विदेशी सैलानी भी पहुंचे मेले का आनंद लेने

सम्यक नाहटा, OFFICE DESK :- मावली माता मेला शुरू हो गया है। 12 साल बाद मावली माता मेला शुरू हो गया है। 64 पगरने के लोग इस मेले में शामिल होते हैं और करीब एक साल पहले मेले के आयोजन को लेकर तैयारी शुरू हो जाती है।

बुधवार को मंत्री कवासी लखमा मेले में शामिल होने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि बस्तर की संस्कृति व परंपराओं को बचाए रखना हम सबकी जिम्मेदारी है।

दोपहर करीब एक बजे हेलीकाप्टर से मंत्री कवासी लखमा, अंतागढ़ विधायक अनूप नाग व लुंड्रा विधायक डा. प्रीतम राम पहुंचे। हेलीपेड़ पर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया उसके बाद निमार्णाधीन मंदिर पहुंचे जहां मंदिर के निर्माण कार्य की गति और तेज करने को कहा उसके बाद मावली माता मेले में पहुंचे।

छिंदगढ़ ब्लाक मुख्यालय के चौक पर मेला समिति ने उनका स्वागत किया उसके बाद ढोल व बाजे के साथ मावली माता मंदिर पहुंचे। जहां सभी ने माता की पूजा-अर्चना कर प्रदेश व देश की खुशहाली व शांति की प्रार्थना की।

उसके बाद कार्यक्रम में पहुंचे जहां मंत्री कवासी लखमा ने स्थानीय पुजारी, वरिष्ठजनों से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना। वहीं तोंगपाल के छिंदगढ़ में 12 साल में लगने वाले मेले में स्थानीय लोगों के साथ-साथ विदेशी सैलानी भी मेले का आनंद लेने पहुंचे। फ्रांस के सैलानियों ने कहा कि बस्तर की संस्कृति और परंपरा अद्भुत है।

उसके बाद स्थानीय जनप्रतिनिधियों से मुलाकात कर मेले में आने वालों की जानकारी व मेले की व्यवस्था को लेकर चर्चा की। वही 4 बजे के करीब हेलीकाप्टर से वापस रायपुर रवाना हुए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: