Google search engine
HomeBREAKING NEWSप्रेमी संग मिलकर पत्नी ने पति को मारी गोली, फिल्मी स्टाइल में...

प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने पति को मारी गोली, फिल्मी स्टाइल में हुवा पर्दाफाश…..

प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने पति को मारी गोली, फिल्मी स्टाइल में हुवा पर्दाफाश

OFFICE DESK :- दुमका में 15 अक्टूबर को दिलीप कुमार साह नाम के व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी थी। पत्नी ने पुलिस के सामने कहा था कि उसे शक है कि जमीन विवाद में उसके पति की हत्या की गई है

लेकिन पुलिस ने घटना को लेकर गहन छानबीन की तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ। दिलीप साह हत्याकांड में पुलिस ने मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी को हिरासत में लिया है। ये पूरा मामला दुमका जिला के जरमुंडी प्रखंड अंतर्गत चंदनपहाड़ी गांव का है। पति-पत्नी के बीच रिश्ते ठीक नहीं थे।

जरमुंडी के एसडीपीओ शिवेंद्र कुमार ने पत्रकार वार्ता में हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि 15 अक्टूबर की रात चंदनपहाड़ी गांव में दिलीप कुमार साह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने तत्काल अज्ञात अपराधियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी।

घटना की जांच के लिए वरीय अधिकारियों के निर्देश पर एक टीम का गठन किया गया जिसमें तकनीकी सेल के एक्सपर्ट्स को भी रखा गया। जांच के दौरान कॉल रिकॉर्ड्स से संदेह मृतक की पत्नी टुवा देवी की ओर ही जा रहा था।

पुलिस ने टुवा देवी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। पहले तो उसने पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया लेकिन कड़ाई से पूछताछ करने पर वो टूट गई और पुलिस के सामने पूरे हत्याकांड का खुलासा कर दिया।

एसडीपीओ शिवेंद्र कुमार, मृतक दिलीप कुमार साह और मुख्य आरोपी टुवा देवी के बीच रिश्ते ठीक नहीं थे। मूलरूप से बिहार के बांका जिला स्थित बौंसी (जगन्नाथपुर) का रहने वाला दिलीप जरमुंडी के चंदनपहाड़ी गांव में पत्नी टुवा देवी के घर पर घरजमाई बनकर रहता था।

दंपत्ति के 5 बच्चे हैं। दिलीप रंग-रोगन का काम करता था और काम के सिलसिले में अक्सर बाहर ही रहता था। इसी बीच टुवा देवी का प्रेम-प्रसंग बिहार के बांका जिला निवासी विकास यादव से हो गया।

टुवा देवी ने पुलिस को बताया कि उसका पति दिलीप 2 महीने पहले ही घर आया था। टुवा देवी ने प्रेमी विकास के साथ मिलकर पति की हत्या का प्लान बनाया। उसने हथियार खरीदने के लिए प्रेमी विकास के खाते में ग्राहक सेवा केंद्र से 20 हजार रुपये ट्रांसफर किए।

घटना वाले दिन प्रेमी विकास पहले ही घर के पास आकर झाड़ियो में छिप गया था। रात को टुवा देवी ने पत दिलीप के खाने में बेहोशी की दवा मिला दी।

जब दिलीप बेहोश हो गया तो टुवा ने प्रेमी विकास को 3 मिस्ड कॉल किए और अंदर बुलाया। विकास ने घर के अंदर सो रहे दिलीप को करीब से गोली मार दी और फरार हो गया।

एसडीपीओ ने बताया कि साक्ष्य मिटाने के इरादे से मृतक की पत्नी ने सिम कार्ड को दांत से चबाकर दुमका में पोस्टमॉर्टम हाउस के पास फेंक दिया। पुलिस ने टूटा हुआ

सिमकार्ड बरामद कर लिया है। महिला ने जमीन विवाद की कहानी गढ़ी थी लेकिन मृतक के परिजनों ने पति-पत्नी के बीच तनावपूर्ण रिश्ते की बात पुलिस को बताई और हत्या की आशंका व्यक्त की।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments