प्रेम विवाह से नाराज पिता ने बेटियों और पत्नी पर किया प्राणघातक हमला, एक की मौत

0
118

 

दुर्ग। जिले के  खुर्सीपार थाना क्षेत्र से बहुत ही हृदय विदारक घटना सामने आ रही है जहा एक पिता ही बेटी का कातिल बन गया। अपनी तीन बेटी तथा पत्नि को जान से मारने की नीयत से हमला कर एक बेटी की हत्या एवं अन्य तीन को गंभीर रूप से घायल करने वाला आरोपी पिता अमरदेव राय को खुर्सीपार पुलिस द्वारा चंद मिनटों में किया गया गिरफ्तार ।

जानकारी के अनुसार घटना दिनांक – 11.02.2023 सुबह की है प्रातः 04:00 बजे पुलिस को सूचना मिली कि केएलसी खुर्सीपार का रहने वाला एक व्यक्ति अपने परिवार मे पत्नि और तीन बच्चियों पर अपने घर मे रखे तलवार से प्राणघातक हमला किया है। थाने में तैनात ड्युटी ऑफिसर, पेट्रोलिंग पार्टी तथा 112 प्रातः 04:20 बजे घटनास्थल जाने वाले मार्ग पर अमरदेव राय भागते हुये दिखा जिसे रोककर पुछने पर डरा भयभीत तथा हिल हवाला जवाब देने पर वाहन में बैठाकर घटनास्थल पहुंचने वहा का मौहोल बहुत ही दिल दहलाने वाला दिखा मोहल्लेवासी द्वारा जानकारी मिली की आरोपी पिता अमरदेव द्वारा ही उसकी बेटी तथा पत्नि को मौत के घाट उतारा गया है । मौके पर 1. देवती राय (पत्नि) 2. वंदना (बडी लडकी) 3. ज्योति (मंझली लडकी) 4. प्रीती (छोटी लडकी) गंभीर हालत में होने से तत्काल 112 तथा पेट्रोलिंग वाहन की मदद से चारो को शासकीय अस्पताल सुपेला लाया गया जहां डॉक्टर द्वारा ज्योति राय को मृत घोषित किया गया तथा अन्य हताहतो की गंभीर स्थिति होने से जिला अस्पताल दुर्ग रिफर किया गया। जिला अस्पताल दुर्ग में प्राथमिक उपचार पश्चात हताहतो की स्थिति गंभीर होने से शंकराचार्य अस्पताल जुनवानी रिफर कर भर्ती किया गया है। घटनास्थल को सुरक्षित कर एफएसएल युनिट रायपुर एवं फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट के द्वारा घटना का बारिकी से निरीक्षण कर साक्ष्य एकत्रित किया गया।

आरोपी से घटना के संबंध मे बात करने पर बताया कि आरोपी की बड़ी बेटी वंदना डेढ वर्ष पूर्व अपनी मर्जी से घर के पीछे रहने वाले लड़के अभिषेक सिंह से विवाह कर ली थी, उसके बाद से आरोपी के घर उसकी लडकी का आना जाना बिल्कुल बंद था किंतु आरोपी की पत्नि का पेट का ऑपरेशन होने के बाद अपनी बड़ी बेटी वंदना को देखभाल हेतु उसके ससुराल केएलसी खुर्सीपार से अपने घर केएलसी खुर्सीपार दुसरी गली जहां रहती थी वहां बुला लिया था। उस वक्त आरोपी गुजरात ट्रक लेकर गया हुआ था जिसे उसके परिवार वालो ने जानकारी दी कि वंदना को घर बुला लिये है अभी यहीं रहेगी, हम लोग फिरहाल उसे रखेंगे और जब आरोपी ने विरोध किया तो उसके परिवार वाले पत्नि एवं बेटी कहने लगे कि तुम कुछ नहीं कर पाओगे। तब आरोपी बहुत नाराज हो गया, भागी हुई लडकी के घर में रहने तथा परिवार वालो के द्वारा उसका पक्ष लेने तथा आरोपी को अपमानित महसूस करने लगा आरोपी द्वारा घटना के तीन दिवस पूर्व घटना कारित करने का निश्चय कर लिया, अपने पास रखी पुरानी तलवार को छिपाकर छावनी चौक में धार करवाया और अपने कमरे में बिस्तर के सिरहाने छिपाकर हत्या कारित करने के नियत से रख लिया। रात्रि करीबन 03:30 बजे आरोपी नियत अनुसार तलवार छुपाकर सोया था, पत्नि एवं तीनों बेटी, आरोपी का बेटा एवं नाती दुसरे कमरे में सोये थे। जहां की लाईट बंद थी आरोपी द्वारा निर्धारित ढंग से बच्चों के कमरे मे जाकर अपने दोनो हाथ से तलवार पकडे पलंग के बीच जमीन मे सो रही अपनी बेटी को पैर से ठोकर मारा तथा चिल्ला कर उठाते हुये तलवार से हमला किया। जिस पर चिख-चिल्लाहट की आवाज सुन आरोपी की पत्नि एवं अन्य दोनो बेटीयां आरोपी की तरफ गई और रोकने का प्रयास किया जिस पर आरोपी और भड़क गया जिसके बाद उसने सभी पर ताबडतोड वार किया। जब चारो जमीन परं धराशायी हो गये, तब आरोपी को बाहर रोड की ओर से आवाज सुनायी दी जिससे आरोपी द्वारा पीछे का दरवाजा खोलकर भागने लगा। आरोपी के निशांदेही पर आलाजरब जप्त कर अग्रिम जांच विवेचना जारी है।

वारदात में उपयुक्त हथियार

आरोपी अमरदेव राय (उम्र 42 वर्ष, निवासी केएलसी सेक्टर 11.खुर्सीपार)  के विरुद्ध आईपीसी की धारा 307, 302, एवम् आर्म एक्ट 25, 27 के तहत करवाही की जा रही है वारदात में उपयुक्त लोहे के धारदार तलवार को जप्त किया गया है।

        आरोपी पिता अमरदेव राय

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here