Homeबस्तरजगदलपुरकांग्रेस को मिल रहे अपार जन स्नेह से विचलित हुए भाजपाई......

कांग्रेस को मिल रहे अपार जन स्नेह से विचलित हुए भाजपाई……

कांग्रेस को मिल रहे अपार जन स्नेह से विचलित हुए भाजपाई

जगदलपुर :- सांसद और विधायकों में बेहतर तालमेल से हो रहा बस्तर का विकास भी चुभने लगा है भाजपा को

कांग्रेस के लगातार बढ़ते जनाधार से आपा खो बैठे हैं भाजपा नेता

बस्तर के सांसद दीपक बैज और संसदीय सचिव एवं जगदलपुर के विधायक रेखचंद जैन के खिलाफ भाजपा के लोगों ने जो फर्जी सोशल मीडिया वार शुरू किया है, उसके पीछे की कहानी तो कुछ और है।

दरअसल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने महज चार साल में छत्तीसगढ़ में विकास की नई गाथा लिख डाली है। वहीं मुख्यमंत्री बघेल के मार्गदर्शन में और उनके सहयोग से बस्तर के सांसद दीपक बैज और संसदीय सचिव रेखचंद जैन ने बस्तर लोकसभा क्षेत्र और जगदलपुर विधानसभा क्षेत्र में तरक्की की जो बयार बहाई है

वह भाजपा को खटकने लगी है। बैज व जैन समेत बस्तर के सभी कांग्रेसी जनप्रतिनिधियों को जनता से जो अपार स्नेह और कांग्रेस को मिल रहे व्यापक जन समर्थन ने भाजपा की नींद हराम कर दी है।

इसीलिए सोशल मीडिया में फर्जी वीडियो पोस्ट डालकर भाजपा के लोग अपनी भड़ास निकालने लगे हैं। पिछले तीन चार दिनों से बस्तर जिला भाजपा के लोग सोशल मीडिया पर एक वीडियो को वायरल कर कांग्रेस और बस्तर के कर्मनिष्ठ सांसद दीपक बैज और जगदलपुर के कर्मयोगी विधायक एवं संसदीय रेखचंद जैन को बदनाम तथा उनकी छवि धूमिल करने की नाकाम कोशिशों में लगे हुए हैं।

भाजपा द्वारा वायरल किए गए वीडियो पोस्ट में बस्तर की जनता के बीच यह भ्रम फैलाया जा रहा है कि सांसद विधायक ने बस्तर का विकास न होने में अपनी नाकामी कबूल कर ली है। यह वीडियो पोस्ट कोलेंग गांव की एक जनसभा का है, जिसमें सांसद बैज व संसदीय सचिव रेखचंद जैन शामिल हुए थे।

सच्चाई बिल्कुल उलट है। सच तो यह है कि जगदलपुर विधानसभा क्षेत्र के धुर नक्सल प्रभावित वन अंचल के ग्राम कोलेंग में 35 – 40 ग्रामीणों ने कुछ दिनों पूर्व सांसद दीपक बैज और संसदीय सचिव रेखचंद जैन की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली थी। कांग्रेस में शामिल हुए उप सरपंच हिड़मा राम मरकाम, पंच चन्नूराम मरकाम,

आयता पोडियामी, गंगा सोढ़ी, चना मरकाम, पंच मुडोराम, मोनू नाग व अन्य ग्रामीणों में ज्यादातर ग्रामीण भाजपा समर्थक थे। कुछ ग्रामीण सीपीआई के भी समर्थक रहे हैं। कांग्रेस से जुड़े इन ग्रामीणों का कहना है कि उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा आदिवासियों और अन्य वर्गों के हक में शुरू की गई

कल्याणकारी योजनाओं तथा सांसद दीपक बैज व विधायक रेखचंद की सहज सुलभता और उनके द्वारा कोलेंग गांव में कराए गए विकास कार्यों से प्रभावित होकर कांग्रेस में शामिल होने का फैसला किया है।भाजपा समर्थक ग्रामीणों का साथ छोड़ना भाजपा नेताओं को चुभ गया

और इसी के बाद उन्होंने सांसद बैज, संसदीय सचिव जैन और कांग्रेस के खिलाफ सोशल मीडिया वार छेड़ दिया। इस वीडियो को भाजपा के लोग गलत तरीके से बार बार सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं।

खोली भाजपा की पोल, वीडियो में बताया उल्टा

कोलेंग गांव की सभा में सांसद दीपक बैज ने भाजपा के कुशासन की जमकर बखिया उधेड़ी थी। ग्रामीणों के समक्ष उन्होंने भाजपा की पोल खोलकर रख दी थी। बैज ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए विधायक एवं संसदीय सचिव रेखचंद जैन की जनता के प्रति समर्पण भावना, कर्तव्य परायणता और मिलनसारिता की जमकर तारीफ की थी।

उन्होंने कहा था कि भाजपा के लंबे शासनकाल के दौरान पूर्व के विधायक एक बार भी एक बार भी कोलेंग गांव नहीं आए होंगे, जबकि आपके विधायक रेखचंद जैन 8 – 10 बार कोलेंग आ चुके हैं। जैन ने अपने कोलेंग दौरे में हर बार आपके गांव को कुछ न कुछ सौगात जरूर दी है।

भाजपाइयों ने बैज के भाषण से पूर्व शब्द को काटकर वीडियो पोस्ट को सोशल मीडिया पर डाल दिया। अपनी पोल पट्टी को भाजपाइयों ने सांसद बैज के भाषण से अलग कर दिया।

ग्रामीणों के हित में जान की परवाह नहीं

सांसद दीपक बैज व संसदीय सचिव रेखचंद जैन जनता के हितों को सर्वोपरि रखने वाले जनप्रतिनिधि माने जाते हैं। जनता के हितों की रक्षा के लिए वे अपनी जान की भी परवाह नहीं करते। बस्तर में आज भी ऐसे अनेक गांव हैं,

जहां कदम रखना भी खतरे से खाली नहीं है। सुदूर घने जंगलों और पहाड़ों के बीच स्थित गांवों में नक्सलियों का खौफ हमेशा कायम रहता है। बस्तर की झिरमघाटी की नक्सली वारदात में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विद्याचरण शुक्ल, नंद कुमार साय, महेंद्र कर्मा, उदय मुदलियार व अन्य शहीद हो चुके हैं।

इसके बावजूद छ्ग की कांग्रेस सरकार में मंत्री कवासी लखमा, कांग्रेस सांसद दीपक बैज, कांग्रेस विधायक रेखचंद जैन जगदलपुर, विक्रम सिंह मंडावी बीजापुर, लखेश्वर बघेल बस्तर, चंदन कश्यप नारायणपुर, राजमन बेंजाम चित्रकोट आदि नक्सली गढ़ में दौरे पर जाते रहते हैं।

सांसद बैज व विधायक रेखचंद जैन तो देर शाम को संवेदनशील इलाकों में लोगों तक पहुंचने में जरा भी गुरेज नहीं करते। भाजपा शासनकाल में बुनियादी सुविधाओं और विकास से पूरी तरह वंचित रहे

संवेदनशील नक्सल प्रभावित गांवों पर से आज बैज व जैन की सक्रियता के चलते पिछड़ेपन का अंधियारा छंट चुका है और विकास की अविरल धारा प्रवाहित होने लगी है। यह सब भाजपाइयों को नागवार गुजर रहा है। यही वजह है भाजपा के लोग अब बैज और जैन की छवि धूमिल करने के लिए छल प्रपंच का सहारा लेने लगे हैं।

उनका तो हाजमा खराब हो गया है : बैज

सांसद दीपक बैज ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, बस्तर जिले के प्रभारी तथा उद्योग एवं आबकारी मंत्री कवासी लखमा के सदप्रयासों से हो रही बस्तर की तरक्की ने भाजपा के लोगों का हाजमा खराब करके रख दिया है। कांग्रेस की लोकप्रियता को वे पचा नहीं पा रहे हैं।

अपने शासनकाल में हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे भाजपा के जनप्रतिनिधियों की अकर्मण्यता की खीझ भाजपाई उतार रहे हैं। कांग्रेस के चार साल के शासनकाल में बस्तर की हुई तरक्की की वजह से कांग्रेस के बढ़ते जनाधार और भाजपा के गिर चुके ग्राफ की बौखलाहट का इजहार भाजपा के लोग छल प्रपंच के जरिए कर रहे हैं।

बैज ने कहा कि हम मंत्री कवासी लखमा, संसदीय सचिव रेखचंद जैन, बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं विधायक लखेश्वर बघेल, विधायक विक्रम सिंह मंडावी, राजमन बेंजाम, चंदन कश्यप पूरे तालमेल के साथ बस्तर को विकास का नया आयाम रच रहे हैं। भाजपा के फरेब को यहां की जनता अच्छे से समझ चुकी है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: