Homeबस्तरजगदलपुरनगर निगम जगदलपुर के तहत सभी वार्डों में शिविर लगाकर 0 से...

नगर निगम जगदलपुर के तहत सभी वार्डों में शिविर लगाकर 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों का आधार कार्ड बनाया जा रहा है।

नगर निगम जगदलपुर के तहत सभी वार्डों में शिविर लगाकर 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों का आधार कार्ड बनाया जा रहा है।

सम्यक नाहटा, जगदलपुर :- यह शिविर नगर निगम के द्वारा लगाया गया है, जिसमें मितान योजना के अंतर्गत काम करने वाले मितान बच्चों के रजिस्ट्रेशन का कार्य कर रहे हैं।

शुक्रवार को यह शिविर ई.बी.ए मिशन स्कूल में लगाया गया। जहां लगभग 100 बच्चों का रजिस्ट्रेशन करवाया गया। बता दें कि मितान योजना के तहत सभी लोगों तक लाभ पहुंचाने के लिए यह शिविर जगदलपुर के सभी 48 वार्डों निर्धारित तिथियों में लगाई जाएगी। फिलहाल निगम द्वारा 6 वार्डों में यह शिविर लगाई जा चुकी है।

मदन मोहन मालवीय वार्ड के पार्षद सुर्या पानी का कहना है कि सरकार की मितान योजना का लाभ हर वर्ग के लोगों को आसानी से मिल रहा है।

लगभग हर दिन हर वार्ड में शिविर लगाकर मितान बच्चों के आधार कार्ड बनाने का कार्य कर रहे हैं। स्लम एरिया में इस तरह के शिविर काफी लाभदायक होते हैं। यहां रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद 5 से 7 वर्किंग दिनों में आधार कार्ड जारी हो जाएगा।

इसी वार्ड की शहनाज अपनी पोती का आधार कार्ड बनवाने पहुंची थीं। उन्होंने बताया कि अपनी पोती के आधार कार्ड के लिए उन्होंने च्वाइस सेंटर पर पता किया था।लेकिन इस शिविर में उन्हें पैसे भी नहीं लगे और समय भी। सरकार की मितान योजना काफी अच्छी है।

दरअसल मुख्यमंत्री मितान योजना का उद्देश्य लोगों को घर तक सरकारी सेवाओं की पहुंच सुनिश्चित करना है।

इस योजना के द्वारा राशन कार्ड, जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आधार अपडेट जैसी सेवाओं का लाभ नागरिकों को दी जा रही है। नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा संचालित मुख्यमंत्री मितान योजना से लाभान्वित होने के लिये आवेदक को मितान की सेवा के लिये टोल फ्री नंबर 14545 पर कॉल करना होता है।

इसके बाद अपॉइंटमेंट बुक होता, फिर आवेदक को बुकिंग की जानकारी के साथ एक एसएमएस प्राप्त होता है। इसके बाद तय समय और तारीख को मितान आवेदक के घर पहुंचकर आवश्यक दस्तावेज प्राप्त करते हैं। मितान घर पहुंचकर टैबलेट के माध्यम से दस्तावेजों को सत्यापित कर पोर्टल पर अपलोड करते हैं।

बाद में सत्यापित दस्तावेजों को संबंधित विभागों को ऑनलाइन भेजे जाते हैं जो आवेदक से संबंधित दस्तावेज की समीक्षा के बाद प्रमाण पत्र जारी करते हैं। प्रमाण पत्र जारी होने के बाद मितान एजेंट द्वारा प्रमाण पत्र आवेदक के घर पहुंचा दिया जाता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: