Homeबस्तरजगदलपुरजो बिहार में विश्वास खो चुके हैं उन्हें बस्तर का विश्वास जीतने...

जो बिहार में विश्वास खो चुके हैं उन्हें बस्तर का विश्वास जीतने भेजा है भाजपा ने-जावेद खान

जो बिहार में विश्वास खो चुके हैं उन्हें बस्तर का विश्वास जीतने भेजा है भाजपा ने-जावेद खान

जगदलपुर : बस्तर भाजपा का अविश्वास देखकर शायद ही कभी दोबारा बस्तर आएंगे भाजपा केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह-जावेद खान

AICC के बस्तर लोकसभा LDM कोआर्डिनेटर एवं युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता बिहार प्रभारी जावेद खान ने केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के बस्तर दौरे को लेकर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है उन्होंने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है छत्तीसगढ़ में पूरी तरह से विश्वास खो चुकी भाजपा चुनाव आते ही हाथ पैर मारना शुरू कर दी है

कर्नाटक की करारी हार के बाद छत्तीसगढ़ में भी भविष्य में कर्नाटक से भी ज्यादा करारी हार को भांप चुके भाजपा के बड़े नेता छत्तीसगढ़ में चुनाव की कमान संभालने तैयार नहीं हैं

उन्हें डर है यदि छत्तीसगढ़ में उन्होंने चुनावी कमान संभाली और भविष्य में होने वाली बुरी तरह की हार जो कि अटल सत्य है का सामना करना पड़ा तो इससे उनकी व्यक्तिगत छवि पार्टी एवं संगठन में खराब होगी इसलिए भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेताओं को छत्तीसगढ़ में चुनावी कमान संभालने कोई मिल नहीं रहा है

उन्हीं नेताओं से वो काम चलाने पर मजबूर है जो कहीं ना कहीं अपने प्रदेश में मुंहकी खाकर खोटे सिक्के के रूप में समय बिता रहे हैं और वैसे ही नेता छत्तीसगढ़ आने को भी तैयार हो रहे हैं जिनकी कहीं पूछ परख नहीं बची है, बिहार सरकार से हाथ धो चुके बिहार भाजपा के नेता एवं केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को बस्तर की कमान संभालने भेजा गया

जो स्वयं अपने राज्य में विश्वास खो चुके हैं उन्हें बस्तर में विश्वास जीतने भेजा जाना मुंगेरी लाल के हसीना सपने सजाने सा नजर आता है और वहीं दूसरी ओर बस्तर भाजपा भी इस बात से पूर्णतया वाकिफ है ऐसा प्रतीत होता है,

इसलिए केंद्रीय मंत्री के बस्तर आगमन पर बस्तर भाजपा के द्वारा जनसभा का आयोजन बस्तर के सबसे छोटे मैदान पर करा खानापूर्ति करने का कार्य किया गया है क्योंकि जिस मैदान की क्षमता महज दो हजार से भी कम की है ऐसे छोटे से मैदान में मोदी सरकार के मंत्रिमंडल के मंत्री की जनसभा करायी है

और उसे भी सफल बनाने के लिए मुनादी कराने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है यह साबित करता है या तो बस्तर भाजपा यह अच्छी तरह से जानती है कि उसने पिछले 15 सालों में जो छत्तीसगढ़ और बस्तर के साथ कुठाराघात करते हुए जनता का विश्वास खोया है वो दोबारा वापस नहीं हासिल किया जा सकता या फिर बस्तर भाजपा ने केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह जी को बहोत हल्के में लेकर आया राम और गया राम की कवायद रची है।

जावेद ने केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को विज्ञप्ति के माध्यम से यह भी कहा है कि वो बस्तर में पहली बार आऐ हैं वो राजनीतिक चश्मे को उतार कर बस्तर को देखें वो बस्तर की सुंदरता,बस्तर का अपनत्व एवं बस्तर में हो रहे

भुपेश बघेल जी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार के चहुंमुखी विकास मॉडल तथा भाईचारे को करीब से देखकर वापस जाएं और बिहार में भी बस्तर की सुंदरता, अपनत्व,भाईचारे और बस्तर के विकास मॉडल को जन-जन तक फैलाऐं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: