Google search engine
Homeछत्तीसगढरायपुर-संभागMana Camp : सिगरेट के पैसे मांगने पर किया था मर्डर, माना...

Mana Camp : सिगरेट के पैसे मांगने पर किया था मर्डर, माना हत्याकांड के दो आरोपी गिरफ्तार…..

Mana Camp : सिगरेट के पैसे मांगने पर किया था मर्डर, माना हत्याकांड के दो आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। माना क्षेत्रांतर्गत हुए अंधे कत्ल के 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. जानकारी के मुताबिक विक्रम बर्मन ने थाना माना में सूचना दर्ज कराया

कि थाना माना क्षेत्रांतर्गत मिलन सरकार प्लाॅट के सामने उसके पिता बीरेन्द्र बर्मन चना मुर्रा बेचने का दुकान लगाते है, जो बिना किसी को बताये कल रात्रि से कहीं चले गये है घर वापस नहीं आयें है।

जिस पर थाना माना में गुम इंसान क्रमांक 41/2022 कायम कर जांच में लिया गया। इसी दौरान दिनांक 04.11.2022 को सूचक विक्रम बर्मन द्वारा ही थाना माना क्षेत्रांतर्गत नई जमीन से बनरसी जाने वाले मार्ग में स्थित मिलन सरकार के प्लाॅट के कुएं में उसके पिता के शव को डूबे हुए होने की सूचना दी गई। जिस पर थाना माना में मर्ग क्रमांक 50/22 धारा 174 जा.फौ. दर्ज कर जांच में लिया गया।

जांच कार्यवाही के दौरान पुलिस टीम के सदस्यों द्वारा शव को कुएं से बाहर निकाला गया। शव को बाहर निकाल के देखा गया तो पाया गया कि शव के नाक एवं भौं के पास से खून निकल रहा था,
गला को गमछे से कसकर बंधा हुआ था तथा हाथ के पास भी फंदे का निशान पाया गया। प्रथम दृष्टया में अज्ञात आरोपी द्वारा हत्या करना तथा साक्ष्य छिपाने के उद्देश्य से शव को कुएं में फेंकना प्रतीत होने पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना माना में अपराध क्रमांक 281/22 धारा 302, 201 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया।
जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट तथा थाना माना पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा घटना के संबंध में मृतक के पुत्र सहित आस-पास के लोगों से विस्तृत पूछताछ करते हुये अज्ञात आरोपी की पतासाजी करना प्रारंभ किया गया। टीम के सदस्यों द्वारा घटना स्थल तथा उसके आस-पास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन करने के साथ प्रकरण में अज्ञात आरोपी की पतासाजी हेतु मुखबरी भी लगाये गये।
टीम के सदस्यों द्वारा घटना में संलिप्त अज्ञात आरोपी की पतासाजी हेतु लगातार तकनीकी सहायता प्राप्त करते हुए तथा अन्य प्राप्त साक्ष्यों के माध्यम अज्ञात आरोपी की पहचान सुनिश्चित करने के प्रयास किये जा रहे थें। इसी दौरान अज्ञात आरोपियों के संबंध में सूचना प्राप्त हुई जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा त्वरित कार्यवाही कर घटना में संलिप्त ग्राम बनरसी निवासी रूपेश यादव को पकड़ा गया।
घटना स्थल से प्राप्त भौतिक साक्ष्यों के आधार पर टीम के सदस्यों द्वारा घटना के संबंध में रूपेश यादव से कड़ाई से पूछताछ करने पर उसके द्वारा बताया गया कि दिनांक घटना को रात्रि में वह और उसका अन्य साथी कोमल यादव घटना स्थ्ल के पास जहां मृतक बीरेन्द्र बर्मन चना मुर्रा बेचने का दुकान लगाये हुए था। वहां से वे दोनों खाने-पीने का सामान खरीदने के लिये गये, कोमल यादव ने मृतक बीरेन्द्र बर्मन से सिगरेट मांगा जिस पर मृतक द्वारा कोमल यादव को सिगरेट दिया गया तथा पैसे की मांग की गई।
जिस पर दोनों ने पैसे नही है कल देंगे कहते हुए मृतक बीरेन्द्र यादव से वाद विवाद तथा मारपीट करने लगे, इसी बीच कोमल यादव उर्फ भुरवा ने आवेश में आकर घटना स्थल के पास में रखें ईंटनूमा पत्थर से मृतक के सिर तथा गर्दन पास वार कर मृतक को गिरा दिया तथा रूपेश यादव ने डण्डे से वार करते हुए
अपने पास रखें गमछे से मृतक का गला दबाकर दोनों ने मृतक की हत्या कर दी तथा स्वयं की पहचान छिपाने के उद्देश्य से घटना स्थल के पास ही स्थित कुएं में मृतक के शव को फेंक दिया। जिसमें उनका हेयर बैण्ड, चप्पल तथा गमछा घटना स्थल में गिर गया। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा घटना में संलिप्त अन्य आरोपी ग्राम बनरसी निवासी कोमल यादव को भी पकड़ा गया।
दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर घटना स्थल तथा उनके कब्जे से घटना में प्रयुक्त ईंटनूमा पत्थर, गमछा, डण्डा एवं हेयर बैण्ड, चप्पल तथा आरोपियों के कपड़ों को जप्त कर आरोपियों के विरूद्ध कार्यवाही की गई।

गिरफ्तार 
आरोपी 01. रूपेश यादव पिता अनुज यादव उम्र 19 साल निवासी ग्राम बनरसी थाना माना रायपुर।
02. कोमल यादव उर्फ भुरवा पिता स्व. उदय यादव उम्र 19 साल निवासी ग्राम बनरसी थाना माना रायपुर।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments