Homeछत्तीसगढरायपुर-संभागतेलीबांधा और टिकरापारा के सूने मकानों में चोरी करने वाले 3 शातिर...

तेलीबांधा और टिकरापारा के सूने मकानों में चोरी करने वाले 3 शातिर गिरफ्तार…..

रायपुर। तेलीबांधा और टिकरापारा के सूने मकानों में चोरी करने वाले 3 शातिर को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस के मुताबिक प्रार्थी तुलसी राम साहू ने थाना तेलीबांधा में रिपोर्ट दर्ज कराया

कि वह पुराना कांशीराम नगर मकान नंबर 407 तेलीबांधा रायपुर मं रहता है। प्रार्थी दिनांक 24.10.2022 को दीपावली त्यौहार होने के कारण घर में ताला लगाकर अपने चाचा के यहां बंजारी रांवाभाठा रायपुर परिवार सहित चले गया था।

दिनांक 25.10.2022 के सुबह प्रार्थी को उसके पड़ोसी पुष्पा साहू ने मोबाईल फोन में सूचना दिया कि उसके घर का ताला टूटा हुआ है तथा सामान बिखरा पड़ा हुआ है। जिस पर प्रार्थी अपने घर वापस आया

तो देखा कि उसके घर का ताला टूटा हुआ था, आलमारी खुला हुआ था तथा आलमारी के लाॅकर में रखे नगदी रकम एवं चांदी के सिक्के वहां नही थे। कोई अज्ञात चैरी प्रार्थी के घर का ताला तोड़कर अंदर प्रवेश कर आलमारी के लाॅकर को तोड़कर

उसमें रखे उक्त मशरूका को चोरी कर फरार हो गया था। जिस पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना तेलीबांधा में अपराध क्रमांक 688/22 धारा 457, 380, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध किया गया।

02. विवरण – प्रार्थी रोहित सरोज ने थाना टिकरापारा में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह रावतपुरा काॅलोनी फेस -2 रायपुर में रहता है एवं विगत एक वर्ष अपने माता-पिता के साथ सिविल लाईन के सरकारी अवास में रह रहा है तथा बीच-बीच में रावतपुरा काॅलोनी के घर में जाता है।

प्रार्थी दिनांक 22.01.2023 को रावतपुरा काॅलोनी फेस-2 स्थित अपने मकान में गया तो देखा कि बाहर के दरवाजे का ताला टूटा हुआ था तथा अंदर प्रवेश कर देखा तो कमरे में रखा आलमारी खुला हुआ था,

सामान बिखरा पड़ा हुआ था तथा आलमारी में रखा चांदी के जेवरात, नगदी रकम एवं घर में रखा पीतल का बर्तन नहीं था। कोई अज्ञात चोर प्रार्थी के घर के दरवाजे का ताला तोड़कर घर अंदर प्रवेश कर उक्त मशरूका को चोरी कर फरार हो गया। जिस पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना टिकरापारा में अपराध क्रमांक 55/2023 धारा 457, 380, 34 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया।

03. विवरण – प्रार्थी सूरज कुमार गुरूंग ने थाना टिकरापारा में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह रावतपुरा कालोनी फेस-1 में रहता है। प्रार्थी दिनांक 23.01.2023 को रात्रि में डियुटी होने के कारण घर के दरवाजा में ताला लगाकर अपने ड्यूटी पर चला गया था।

प्रार्थी दिनांक 24.01.2023 को सुबह ड्यूटी से वापस घर आया तो देखा की घर के बाहर का गेट खुला हुआ था, दरवाजे में लगा ताला टूटा हुआ था। प्रार्थी अंदर जाकर देखा तो पाया कि कमरे में रखा आलमारी खुला हुआ था

सामान बिखरा हुआ था तथा आलमारी में रखे सोने के जेवरात एवं सिक्के वहां नही थे। कोई अज्ञात चोर दिनांक 23.01.2023 के दरम्यानी रात्रि प्रार्थी के घर के दरवाजे का ताला तोड़कर,

अंदर प्रवेश कर, अंदर में रखे आलमारी से उक्त मशरूका को चोरी कर फरार हो गया था। जिस पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना टिकरापारा में अपराध क्रमांक 58/2023 धारा 457, 380 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया है।

चोरी की घटनाओं को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल द्वारा गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर/अपराध अभिषेक माहेश्वरी, नगर पुलिस अधीक्षक सिविल लाईन वीरेन्द्र चतुर्वेदी, नगर पुलिस अधीक्षक पुरानी बस्ती राजेश चैधरी, उप पुलिस अधीक्षक क्राईम दिनेश कुमार सिन्हा,

निरीक्षक रोहित मालेकर एण्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट, थाना तेलीबांधा तथा थाना प्रभारी टिकरापारा को जल्द से जल्द अज्ञात आरोपी की पतासाजी कर गिरफ्तार करने हेतु

निर्देशित किया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एण्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट, थाना तेलीबांधा तथा थाना टिकरापारा पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा घटना के संबंध में प्रार्थियों सहित आस-पास के लोगो से विस्तृत पूछताछ करते हुए अज्ञात आरोपी की पतासाजी करना प्रारंभ किया गया।

टीम के सदस्यों द्वारा घटना स्थलों का निरीक्षण करने के साथ ही घटनास्थल तथा उसके आस-पास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेेजों का अवलोकन करते हुए प्रकरण में अज्ञात आरोपी की पतासाजी हेतु मुखबीर भी लगाये गये।

टीम के सदस्यों द्वारा तरीका वारदात के आधार पर चोरी के पुराने एवं हाल ही में जेल से रिहा हुए आरोपियों के संबंध में भी जानकारी एकत्र कर अज्ञात आरोपी की पतासाजी की जा रही थी।

इसी दौरान प्रकरण में संलिप्त एक लड़का जो विधि के साथ संघर्षरत बालक है को घटनास्थलों के पास देखा गया था, जो पूर्व में भी हत्या के प्रयास एवं चोरी के प्रकरणों में बाल सम्प्रेक्षण गृह माना में निरूद्ध रह चुका था।

जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा विधि के साथ संघर्षरत उक्त बालक की पतासाजी कर पकड़कर चोरी की उक्त घटनाओं के संबंध में कड़ाई से पूछताछ करने पर उसके द्वारा अपने अन्य तीन साथी जो विधि के साथ संघर्षरत बालक है,

के साथ मिलकर चोरी की उक्त घटनाओं को कारित करना स्वीकार किया गया। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा घटना में संलिप्त अन्य तीन विधि के साथ संघर्षरत बालकों की भी पतासाजी कर पकड़ा गया।

चारों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से चोरी की सोने चांदी के जेवरात, बर्तन तथा घटना में प्रयुक्त 01 नग दोपहिया वाहन जुमला कीमती 1,20,000/- रूपये जप्त कर अपचारियों के विरूद्ध कार्यवाही की गई।

घटना में संलिप्त विधि के साथ संघर्षरत 01 बालक के पूर्व में भी हत्या के प्रयास एवं चोरी के प्रकरणों में बाल सम्प्रेक्षण गृह माना में निरूद्ध रह चुका है।

गिरफ्तार – विधि के साथ संघर्षरत 04 बालक।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: