Google search engine
Homeरायपुर-संभागधमतरीधमतरी : सोसाइटियों में पहुंचा चना-गेहूं का बीज, किसानों ने शुरू नहीं...

धमतरी : सोसाइटियों में पहुंचा चना-गेहूं का बीज, किसानों ने शुरू नहीं किया उठाव……

धमतरी : सोसाइटियों में पहुंचा चना-गेहूं का बीज, किसानों ने शुरू नहीं किया उठाव

धमतरी। खेतों में तैयार खरीफ धान फसल की कटाई-मिंजाई जोरों पर है। किसान-मजूदर व्यस्त है। कटाई-मिंजाई होने के बाद किसान रबी फसल लेने की तैयारी में जुटेंगे।

इधर रबी सीजन के लिए सोसाइटियों में चना-गेहूं का बीज पहुंच गया है, लेकिन किसान अभी उठाव शुरू नहीं किया है, क्योंकि ज्यादातर किसान चना व गेहूं का उठाव निजी दुकानों से करते हैं। फिर भी रबी खेती-किसानी शुरू होने के बाद बीज के उठाव में तेजी आने की संभावना है।

बेमौसम वर्षा व त्यौहारी सीजन के चलते इस साल किसान खेतों में तैयार खरीफ धान फसल की कटाई-मिंजाई में पिछड़ गए। नवंबर माह के अधिकांश दिन कटाई-मिंजाई में निकल रहा है।

मजदूर व हार्वेस्टर के माध्यम से तेजी से कटाई-मिंजाई जारी है। ऐसे में किसान रबी खेती-किसानी की शुरूआत नहीं की है। चना व गेहूं फसल लगाने किसान जल्द ही तैयारी करने वाले हैं।

इसे देखते हुए जिले के सभी 74 सोसाइटियों में रबी फसल के लिए चना व गेहूं बीज का भंडारण कर चुके हैं, लेकिन धान फसल की कटाई-मिंजाई में किसान व्यस्त होने के कारण फिलहाल उठाव शुरू नहीं किया है।

रबी फसल की तैयारी करते ही किसान सोसाइटियों से बीज का उठाव करेंगे। समितियों के प्रभारियों का कहना है कि ज्यादातर किसान निजी दुकानों से चना व गेहूं का बीज खरीदते हैं,

ऐसे में हर साल बीज का आबंटन कम मिलता है।सोसाइटियों में चना व बीज के अलग-अलग किस्म पहुंचे हैं, जिसमें बौना व ऊंची किस्म के बीज शामिल है। सोसाइटियों में ऊंची किस्म के गेहूं प्रति क्विंटल 3425 रुपये और बौना किस्म के गेहूं 3400 रुपये शामिल है।

इसी तरह चना ऊंची किस्म 7500 रुपये है। इसी तरह सरसो 7000 रुपये, मटर 8300 रुपये प्रति क्विंटल, तिवड़ा 5000 रुपये, मसूर 8000 रुपये, अलसी 6000 रुपये, कुसुम 6500 रुपये व मूंगफली प्रति क्विंटल 8200 रुपये है। यह दाम सोसाइटियों का है,

लेकिन निजी दुकानों में चना, गेहूं व अन्य दलहन-तिलहन फसल के दाम अलग-अलग है। इस संबंध में जिला नोडल अधिकारी शिवेश मिश्रा का कहना है कि रबी खेती-किसानी शुरू होने के बाद किसान सोसाइटियों में पहुंचे दलहन-तिलहन बीज का उठाव करेंगे। कृषि उप संचालक मोनेश कुमार साहू का कहना है कि रबी सीजन में अधिक से अधिक किसानों को दलहन-तिलहन फसल लेने प्रेरित किया जा रहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments