Google search engine
Homeजरा हटकेLunar Eclipse 2022 : धर्म और विज्ञान की दृष्टि से समझे क्या...

Lunar Eclipse 2022 : धर्म और विज्ञान की दृष्टि से समझे क्या है चंद्रग्रहण, सबसे पहले यहां दिखेगा अद्भुत नजारा …

Lunar Eclipse 2022 : धर्म और विज्ञान की दृष्टि से समझे क्या है चंद्रग्रहण, सबसे पहले यहां दिखेगा अद्भुत नजारा …

OFFICE DESK :- विज्ञान के तर्कवाद ने सत्य तक पहुंचने की विधि खोजी है. विज्ञान जड़-जगत या भौतिक जगत के रहस्यों को उजागर करता है.

धार्मिक मान्यता लोगों की आस्था, श्रद्धा और विश्वास है. दोनों दृष्टि से 8 नवंबर को लगने वाले साल के अंतिम चंद्रग्रहण की संपूर्ण जानकारी एक साथ देने जा रहे हैं.

सुबह 9.21 बजे से लगेगा सूतक

सनातन धर्म में कार्तिक माह को सभी महीनों में सबसे शुभ फलदायी माना गया है. कार्तिक पूर्णिमा 8 नवंबर को है ओर इसी दिन चंद्र ग्रहण भी लग रहा है.

सूतक का आरंभ इस दिन सूर्योदय से ही हो जाने की वजह से इस बात को लेकर चर्चा है कि सूतक काल में स्नान और दान पुण्य कैसे किया जाएगा.

चंद्रग्रहण 08 नवंबर मंगलवार को है. चंद्रग्रहण 08 नवंबर को शाम 05 बजकर 32 मिनट से आरंभ होगा और शाम 06 बजकर 18 मिनट पर समाप्त होगा. चंद्रग्रहण का सूतक सुबह 09 बजकर 21 मिनट पर शुरू होगा और सूतक काल शाम 06 बजकर 18 मिनट पर समाप्त होगा.

इससे पूर्व मंदिर के कपाट को बंद कर दिया जाएगा. इस दिन स्नान करने का शुभ मुहूर्त सुबह 4 बजे से लेकर सूर्योदय तक है. वैसे पूरे दिन स्नान किया जा सकता है.

एक दिन पहले मनाएंगे देव दीपावली

साल का आखिरी चंद्रग्रहण के दिन देव दीपावली भी पड़ रही है. यही वजह है कि देव दीपावली भी, दिवाली की तरह एक दिन पहले मनाए जाने की बात कही जा रही है. जानकार कहते हैं

कि देव दीपावली पर ग्रहण साया होगा. एक दिन पहले मनाने ठीक होगा. ज्योतिष में चंद्र ग्रहण को अशुभ घटना माना जाता है. इस दौरान पूजा-पाठ व मांगलिक कार्यों की मनाही होती है. इस दौरान मंदिर के कपाट भी बंद कर दिए जाते हैं. चंद्रग्रहण का सभी 12 राशियों पर प्रभाव देखने को मिलेगा.

भारत में कहां कितने समय दिखाई देगा चंद्रग्रहण

भारत के लिए साल 2022 खगोलीय घटनाओं के लिहाज से अद्भुत साबित हो रहा है. दीपावली के एक दिन बाद सूर्यग्रहण का अनूठा नजारा लोगों ने देखा था और अब चंद्रग्रहण लगने जा रहा है.

भारत में चंद्रग्रहण का नजारा देश के पूर्वी भागों में दिखाई देगा. वहीं, बाकी हिस्सों में आंशिक चंद्रग्रहण देखा जा सकेगा. पटना, रांची, कोलकाता, सिलीगुड़ी और गुवाहाटी में चंद्रग्रहण का नजारा साफ तौर पर देखा जा सकेगा.

भारत के प्रमुख शहरों में चंद्र ग्रहण शुरू होने और समाप्त के समय की बात करें, तो कोलकाता में चंद्रग्रहण शाम 4:52 बजे से दिखेगा. अगरतला, कोहिमा, गुवाहाटी के लिए लगभग 4:30 बजे देखा जा सकता है.

वहीं, श्रीनगर में आधे से ज्यादा ग्रहण लगा हुआ चंद्रमा 5:31 बजे नजर आयेगा. नई दिल्ली में लगभग 5:31 बजे आंशिक ग्रहण का अनुभव होगा. बेंगलुरु में आंशिक चंद्रग्रहण 5:57 बजे नजर आयेगा. मुंबई इसे लगभग 6:03 बजे देखा जा सकता है.

विदेशों में यहां दिखेगा खगोलीय नजारा

दूसरे एशियाई देशों, उत्तरी अमेरिका, उत्तरी और पूर्वी यूरोप के कुछ हिस्सों, दक्षिणी अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया में भी देखा जा सकेगा. यह कुछ भागों में पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा,

वहीं कुछ हिस्सों में आंशिक चंद्र ग्रहण होगा.बीजिंग, सिडनी, मेलबर्न, जकार्ता, वाशिंगटन डीसी, सैन फ्रांसिस्को, न्यूयॉर्क सिटी, लॉस एंजिलिस, शिकागो, मैक्सिको सिटी, कनाडा, ब्राजील, टोक्यो, मनीला, काठमांडू में चंद्रग्रहण देखा जा सकेगा.

नग्न आंखों से ही देख सकते हैं चंद्र ग्रहण

8 नवंबर को लगने जा रहे चंद्र ग्रहण को देखने के लिए किसी विशेष निर्देश का पालन करने की आवश्यकता नहीं है. आप चंद्र ग्रहण को अपनी नग्न आंखों से ही देख सकते हैं.

ऐसा अनुमान है कि 2.7 अरब लोग दुनियाभर में इस चंद्रग्रहण को देख पाएंगे. आप चंद्र ग्रहण को ऑनलाइन देख सकते हैं, जब नासा और कई दूसरे संगठन इसे लाइव स्ट्रीम करते हैं. इस लिंक https//youtu.be/BjKUlaGmEwg पर क्लिक करके भी चंद्रग्रहण को लाइव ऑनलाइन देखा जा सकता है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments