Homeजरा हटकेश्रद्धा हत्याकांड जैसी एक और बड़ी घटना : प्रेमिका की हत्या कर...

श्रद्धा हत्याकांड जैसी एक और बड़ी घटना : प्रेमिका की हत्या कर फ्रिज में शव रखा, अब आरोपी को कोर्ट ने 5 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा…..

नई दिल्ली : दिल्ली की एक अदालत ने बुधवार को अपनी प्रेमिका की हत्या कर और उसके शरीर को उसके ढाबे पर एक रेफ्रिजरेटर में भर कर रखने के आरोपी एक व्यक्ति को पूछताछ के लिए पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया।

साहिल गहलोत को हरियाणा के झज्जर की रहने वाली एक महिला का शव दिल्ली में मित्राओं गांव के बाहरी इलाके में उसके स्वामित्व वाले एक ढाबे के फ्रिज के अंदर पाए जाने के बाद गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने अदालत को बताया कि जिस दिन उसने अपनी प्रेमिका निक्की यादव की हत्या की उसी दिन उसने शादी भी कर ली।

द्वारका कोर्ट की मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट अर्चना बेनीवाल ने गहलोत को पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया ताकि जांच,

सबूत इकट्ठा करने और आरोपी से जवाब हासिल किया जा सके। पुलिस द्वारा दायर एक आवेदन में कहा गया है कि उन्हें गहलोत को उन जगहों पर ले जाने की जरूरत है जहां वह यादव के साथ गए थे।

सूत्रों के अनुसार, हत्या कश्मीरी गेट इलाके के पास की गई थी और गहलोत शव को लगभग 36 किमी दूर अपने ढाबे तक ले गया। पुलिस के मुताबिक 10 फरवरी को सूचना मिली थी कि साहिल गहलोत नाम के व्यक्ति ने अपनी प्रेमिका की हत्या कर उसी दिन दूसरी लड़की से शादी कर ली थी।

विशेष पुलिस आयुक्त, अपराध, रवींद्र सिंह यादव ने कहा, “एक पुलिस टीम का गठन किया गया और जाँच करने पर, किसी भी लापता लड़की के बारे में कोई मामला या शिकायत दर्ज नहीं हुई।

आरोपी गहलोत की तलाश में टीम मित्रांव गांव पहुंची, लेकिन उसका मोबाइल फोन बंद मिला और वह अपने घर में मौजूद नहीं था। गांव और आसपास के इलाके में सघन तलाशी ली गई।”

हालांकि गहलोत को पुलिस ने कैर गांव चौराहे से दबोच लिया। विशेष आयुक्त यादव ने कहा, “पूछताछ में शुरू में आरोपियों ने पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया।

लेकिन निरंतर पूछताछ पर, उसने खुलासा किया कि उसने 9 और 10 फरवरी की दरमियानी रात में अपनी प्रेमिका निक्की यादव की हत्या कर दी थी और उसके शरीर को गांव मित्रांव के बाहरी इलाके में स्थित अपने ढाबे के रेफ्रिजरेटर में भर दिया था।” अधिकारी ने कहा,

“निक्की का शव आरोपियों की निशानदेही पर फ्रिज से बरामद किया गया। भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच के दौरान आरोपी द्वारा बताए गए वर्जन का वेरिफाई किया जा रहा है।”

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: