Google search engine
HomeUncategorizedआज राम दरबार में सांपों की पेशी, नाग बताएंगे डसने का कारण,सालों...

आज राम दरबार में सांपों की पेशी, नाग बताएंगे डसने का कारण,सालों से चली आ रही प्रथा में हजारो लोगो का जमावड़ा…..

आज राम दरबार में सांपों की पेशी, नाग बताएंगे डसने का कारण,सालों से चली आ रही प्रथा में हजारो लोगो का जमावड़ा

सीहोर: सुनने में अजीबो-गरीब लगता है ,लेकिन भगवान राम की अदालत में आज जहरीले नाग सांपो की पेशी होती है|इलाके में सांपो के डसने से होने वाली मौत को लेकर नागराज अपना मकसद जाहिर करते है|

वो बताते है कि आखिर क्यों उन्होंने इंसानो को डसा|दूर-दूर से आए सर्पदंश पीड़ितों का यहाँ मेला भरता है|मध्यप्रदेश के सीहोर जिले के ग्राम लसुडिया परिहार में आज राम मंदिर परिसर में सांपों की अदालत लगेगी|इस अदालत में बकायदा सांप पेशी पर आएंगे|

सर्पदंश से पीडित लोग स्वस्थ होने की कामना लेकर तो कई अपने घरो और आस-पास से सांपो का रैन बसेरा हटाने की गुहार को लेकर मंदिर में आएंगे|इसे विज्ञान के लिए भी बड़ी चुनौती माना जाता है |

राम अदालत में आस्था कहें या अंधविश्वास, मंदिर पहुंचने वाले लोगों को इससे कोई फर्क नहीं पडता| ये प्रथा सैकड़ो सालों से चली आ रही है|लोगो का दावा है कि उन्हें यहाँ लगाई गई पुकार से फायदा होता है|वे कई किस्से और कहानियां सुनाकर राम दरबार का महत्त्व बताते है|

उनके दावों पर यकीन करें तो पेशी के दौरान नागदेव मानव शरीर में आते हैं| वे मनुष्यो को उन्हें अथवा उनके परिचितों को सर्प के डसने का कारण बताते हैं|आमतौर पर कोई कहता है

कि पूछ पर पैर रखने के कारण उस व्यक्ति को डसा तो कोई उसकी परेशानी का कारण बताता है |मौके पर मौजूद पीड़ितों की हालत देखकर हैरानी होती है|

उनकी शिकायत ,इसने मेरी पूंछ पर पांव रख दिया था, मेरे नाग को मार दिया था, मुझे डंडे से मारा. कुछ इस तरह की घटनाओ का रहस्यमयी निदान आज पडवा के दिन होती है |इतना ही नहीं बल्कि नागराज दोबारा नहीं काटने का वचन भी देंगे|

पेशी के दौरान नागदेव का मानव शरीर में आना और डसने का कारण बताना काफी शोध का विषय है |मंदिर के पुजारी के अनुसार सांप की आकृति बनी थाली कोक नगाडे की तरह जैसे ही बजाना शुरू किया जाता है

वैसे ही जिन लोगों को कभी सांप ने काटा था वे झूमने लगते हैं, इसके बात उनसे बात की जाती है|उन्होंने बताया कि लोगों को फायदा होता है इसलिए साल दर साल यहां भीड़ बढती ही जा रही है|

राजधानी भोपाल से करीब 40 किलोमीटर दूर ग्राम लसुडिया परिहार के भगवान राम मंदिर में सुबह से लोगों का जुटना शुरू हो गया है | नागों की अदालत का यह नजारा हर साल यहां दीपावली के बाद पड़वा पर देखने को मिलता है. इसे देखने के लिए बडी संख्या में लोग आते हैं|

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments